kisi ko apna banane ka tarika bataye?

Spread the love

kisi ko apna banane ka tarika bataye? अपना कैसे बनाएँ?

Welcome, kisi ko apna banane ka tarika जी बिल्कुल ज़रूरी है। हम किसी को अपना कैसे बनाएँ? अपने आप को किसी और का कैसे बनाएँ? किसी को वशीकरण कैसे करें? हम कैसे सामने वाले को बस में करें? सामने वाला हम पर कैसे मेहरबान हो? हम किसी को कैसे बस में करें? अपना कैसे बनाएँ? kisi ko apna bnanane ke liye हम किस तरकीब को apnaye. आप जानेंगे kisi ko apna banane ka tarika आप हमारी पोस्ट को पूरा पढ़ें। तो चलिए शुरू करते हैं।

Apne aap ko dekhe kisi ko apna bnanane ke liye

अपने आप को देखें, सबसे पहले दोस्तों यदि हमें किसी को अपना बनाना है। तो पहले ख़ुद को देखना होगा कि यहाँ हमारे अंदर कोई किसी प्रकार की खूबी तो नहीं है। कहने का मतलब हमारे बोलचाल में सादगी होना चाहिए. हमारी बॉडीलंगेज़ काफ़ी अच्छी होना चाहिए. हमारा चाल चलन ठीक-ठाक होना चाहिए. हमारा व्यवहार आचरण सब कुछ अच्छा होना चाहिए.

पहले हमें ख़ुद को सुधारने की कोशिश करना चाहिए. यदि मान लीजिए हमारी ख़्वाब में है किसी को दोस्त को apna banane तो हम कैसे बनाएंगे? उसे बनाने के लिए सबसे पहले हमें उससे अधिक सक्रिय होना होगा। उससे अधिक हमारे लिए पॉजिटिव सोच रखनी चाहिए. जिस kisi ko apna banane है। तो वह हमारे पर आकर्षित होगा, साथ में अन्य लोग भी हमारे तरफ़ आकर्षित होंगे।

इसलिए सबसे पहले अपने आप को छवि को साफ़ रखना है। आपने अपने गुणों को सकारात्मक बनाना है और अपने आप को स्ट्रांग मज़बूत बनाना है। यह साधारण बातें kisi ko apna banane me madat करते हैं।

Apna kisi ko bnanane ke liye व्यवहार में सुधार कैसे लाएँ

अपने व्यवहार में सुधार कैसे लाएँ? दोस्तों यदि हमें kisi ko apna banane है, तो सबसे पहले हमें सादगी लाना ज़रूरी है। हमें किसी से बात करनी है तो बड़े नम्रता भाव से बात करनी है, क्योंकि हमारा जब तक तरीक़ा नहीं बदलेगा, तब तक हम किसी को अपना नहीं बना सकते हैं। अपना बनाने के लिए एक कहावत है कि पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है बिल्कुल सही बात है।

यदि kisi ko apna banane है तो, पहले अपने आप में सुधार लाने की ज़रूरत है। तब कहीं वह जिसे अपना बनाना चाहते हैं वह आपकी तरह आकर्षित होगा। क्योंकि जब तक हमारे पास सब कुछ अच्छा नहीं रहेगा। तन मन और धन से भी थोड़ा बहुत ज़रूरी है। लेकिन सबसे बड़ी बात है दिल से मज़बूत और दिल से पाक रहना ज़रूरी है। क्योंकि हम किसी को बनाने की बात करते हैं तो सबसे पहले वह हमारी तरफ़ ज़रूर झांकता है। तब कहीं वह हमारी तरफ़ आकर्षित होता है।

एक उदाहरण ले लीजिए किसी जैसे अपने माता-पिता, भाई-बहन, मित्र दोस्त किसी को भी अपना बनाना है। क्योंकि वास्तव में वह अपने ही है। लेकिन यदि उन्हें अपने दिल के करीब लाना तो, हमारे लिए अपनी वाणी में, चरित्र में, सुधार और सकारात्मक होना ज़रूरी है। क्योंकि जब तक हम एक आदर्श नहीं बनेंगे। तब तक हमारी तरफ़ कौन देखेगा? कोई नहीं, देखेगा।

Apna bnanae ke liye bat karne ka tarika

क्योंकि एक कहावत है, अच्छे लोगों के साथ लोग जुड़ते हैं। हम एक अच्छा इंसान बनते है तभी हम किसी को अपना बना सकते हैं। अब बात आती हैं अपना बनाने के लिए बात करने का तरीक़ा क्या है? दोस्तों जब किसी मित्र प्रेमी या प्रेमिका को देखते हैं। एक दूसरे से इतनी सादगी और गहराई से बात करते हैं कि एक दूसरे के जिस्म में एक दूसरे की बात समझ आती है।

और वह एक दूसरे को अच्छी तरह से समझ जाते हैं। एक दूसरे को पहचान जाते हैं। एक दूसरे को वह अपना बना लेते हैं। क्योंकि उनकी दिल की गहराइयों को देखा जाता है, यदि किसी आफत विपत्ति परेशानी में कोई मित्र हमारा साथ देता है, कोई प्रेमी प्रेम का साथ देता है तो, वास्तव में ऐसी परिस्थितियों में वह एक दूसरे पर आकर्षित ज़रूर होते हैं।

जब हम बात करते हैं kisi ko apna banane की सबसे पहले अपने आप को दूसरों के हवाले करो, क्योंकि हम किसी को बनाना चाहते हैं बनाने से पहले हमें भी उसका बनना पड़ेगा। क्योंकि जब तक हम उसका नहीं बनेगी। जिसको आप अपना बनाना चाहते हैं कैसे बनाएंगे नहीं बना पाओगे। इसलिए सबसे पहले एक त्याग की भावना अपने अंदर होना चाहिए.

kisi ko apna banane ke liye samrpit kare

हम अपने आप को यह समझे कि जब किसी को हम बनाने की बात करते हैं तो, हम उसको पूर्ण रूप से अपने आप को समर्पित करे। ताकि तभी तो वह हमारे साथ सकारात्मक रूप से अपनाने में सक्षम है। अगर आप किसी को अपना बनाना चाहते हैं। आप रिक्वेस्ट करना सीखें, रिक्वेस्ट करो उनको हमेशा प्यार से बात करें।यदि हम kisi ko apna banane चाहते हैं तो, इतने प्रेम और प्यार से बात करें कि वह अपने आप यह मानने लगे कि हाँ हमारा कोई है हम किसी के बन सकते हैं।

क्योंकि जब आप अपना बनाना चाहते हैं उसके प्रति प्रेम प्यार और भी बहुत गहराई से नहीं सोचेंगे, तब तक सामने वाला अपने आप से प्यार नहीं होता। हमें किसी से बात बड़े प्रेम सादगी से, किसकी प्रेमी प्रेमिका से ही मतलब नहीं है। मान लीजिए आम इंसान है कोई कर्मचारी है, कोई डॉक्टर कोई मास्टर है, कोई अधिकारी है, कोई किसान, कोई नौकर है।

हम किसी से भी अधिक प्रेम प्यार से बात करें। नम्रता से बात करें। एक सम्मानजनक बात करें तो, वह अपने आप में अंदर से बहुत सुकून महसूस करेगा। आप जिस बात के लिए कहे, उस बात को करने के लिए तैयार रहेंगे। क्योंकि आपके अंदर उसने एक प्रेम प्यार को देखा है। प्यार और प्रेम के बस में ही सब कुछ होता है। क्योंकि जो हम प्रेम से प्यार से करवा सकते हैं वह नफ़रत से नहीं करवा सकते हैं। इसलिए जब kisi ko apna banane बड़े प्रेम प्यार से बात करें और सम्मानजनक बात करें। तभी हम सम्मान के पात्र बन सकते हैं।

पोस्ट निष्कर्ष

दोस्तों आपने हमारी पोस्ट में kisi ko apna banane ka tarika के बारे में जाना, वास्तव में यदि आप किसी को अपना बनाना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए काफ़ी फायदेमंद हो सकती है। हो सकता है आपका विचार बदल दे और आप एक नई ऊर्जा के साथ सकारात्मक विचार के साथ, किसी को अपना बनाने के लिए तैयार हो। आशा है आपको हमारी यह पोस्ट ज़रूर पसंद आई होगी। इस पोस्ट को फ़ेसबुक व्हाट्सएप इंस्टाग्राम टि्वटर आदि सोशल नेटवर्क के माध्यम से ज़्यादा ही जाना सांझा करें। “तुझे अपना बनाने की क़सम खाई है खाई है” आपको बहुत-बहुत धन्यवाद

Read post-

3 thoughts on “kisi ko apna banane ka tarika bataye?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *